[entertainment]


ये हैं भारत के टॉप 5 हैकर्स , जानिये इनसे जुड़े कुछ रोचक तथ्य

कंप्यूटर और स्मार्टफोन आज  हम सब की लाइफ का अहम हिस्सा बन चूका है , अक्सर हम लोग किसी न किसी के फेसबुक और ट्विटर अकाउंट हैक होने के बारे में पड़ते रहते हैं। भारत में पिछले कुछ वर्षों से हैकर्स काफी सक्रीय नज़र आ  रहे है। पिछले साल ही राहुल गांधी समेत कई बड़े लोगों के टि्वटर अकाउंट हैक कर लिए गए। कई हैकर संसद की साइट को भी हैक करने की चेतावनी दे चुके हैं।ऐसी घटनाओं को रोकने के लिए एथिकल हैकर्स की जरूरत होती है। वहीं डिजिटल पेमेंट जैसी तकनीक को सुरक्षित करने के लिए भी कई सारी कंपनियां एथिकल हैकर्स की मदद लेती है , इसके लिए कंपनियां इन हैकर्स को अच्छी खासी रकम  अदा करती है। आज  हम इस लिस्ट में बात कर रहे हैं ,इस इंडस्ट्री के कुछ जाने पहचाने चेहरों के बारे में :-





ये हैं भारत के टॉप 5 हैकर्स , जानिये इनसे जुड़े कुछ रोचक तथ्य 


1. राहुल त्यागी


पंजाब के गुरुदासपुर के रहने वाले राहुल त्यागी की उम्र 30 साल की है राहुल को भारत का सबसे बड़ा कम्यूवालेटर सिक्युरिटी एंड एथिकल हैकिंग ट्रेनर माना जाता है। वह TCIL-IT चंडीगढ़ में बतौर साइबर सिक्युरिटी स्पेाशलिस्ट के हैड के रूप में काम कर रहे हैं। वह साइबर सिक्युरिटी एंड एंटी हैकिंग ऑर्गनाइजेशन के वाइस प्रेसिडेंट भी हैं। राहुल एनएआई के टेक्निकल राइटर भी हैं।

2. प्रणव मिस्त्री






गुजरात के प्रणव मिस्त्री  कंप्यूटर साइंटिस्ट और इन्वेंटर हैं। इथिकल हैकिंग की दुनिया में प्रणव चर्चित नाम है। न्यू जेनरेशन के दुनिया के सबसे नामी इनोवेटर के तौर पर मशहूर 34 साल के प्रणव जो करते हैं, वह तय कर सकता है कि टेक्नॉलजी का फ्यूचर कैसा होगा। वह सैमसंग के ग्लोबल वाइस प्रेजिडेंट हैं और गूगलनासायूनेस्को जैसी जगहों पर काम कर चुके हैं। प्रणव दुनिया के 10 बड़े इन्वेंटर के रूप में मशहूर हैं।

3. अंकित फादिया  


अंकित फादिया इथिकल हैकिंग की दुनिया में सबसे विवादित हैकर माने जाते हैं। 2002 में फादिया ने 17 साल की उम्र में भारत की बड़ी मैगजीन की साइट को हैक करने का दावा किया था। उन्होंने दावा किया था कि उनके इस टैलेंट के बाद मैगजीन ने जॉब तक का ऑफर किया। हालांकि बाद में मैगजीन के एडिटर ने इन खबरों को खारिज किया था। फादिया को 2015 में मोदी सरकार के डिजिटल इंडिया के ब्रांड एंबेसडर बनाए जाने पर भी विवाद छिड़ा था। अंकित टीवी होस्ट और ऑथर भी हैं। वह एमटीवी पर What The Hack नामक प्रोग्राम को होस्ट कर चुके हैं। 

4. कौशिक दत्त


माइक्रोसॉफ्ट के साथ इंटरर्नशिप करने के बाद क्लॉकवर्क मोड के लिए काम कर रहे हैं। उन्होंने सोनी के साथ भी काम किया है। कौशिक को फोन हैकिंग में महारत है। 

5. विवेक रामचंद्रन



एथिकल हैकिंग की दुनिया का जाना-माना नाम विवेक रामचंद्रन को माइक्रोसॉफ्ट ने 2006 में सिक्यूजरिटी शॉटआउट प्रतियोगिता का विनर घोषित किया था। विवेक ने आईआईटी गुवाहाटी से बी-टेक किया है। वह कई बड़ी कंपनियों से जुड़े रहे हैं इसके अलावा साइबर सुरक्षा को लेकर किताबें भी लिखी हैं।





इथिकल हैकिंग में कमाई आपकी काबिलियत पर निर्भर करती है। कंपनियां भी किसी प्रोफेशनल हैकर्स को सैलरी देने से नहीं हिचकती हैं। फिर भी ऐसे प्रोफेशनल को शुरुआत में किसी भी आईटी कंपनी से जुड़ने पर 40 से 50 हजार रुपए तक की मासिक सैलरी आसानी से मिल जाती है। पेस्केडलडॉटकॉम के मुताबिक अनुभव बढ़ने पर और नामी कंपनियों से जुड़ने पर हर महीने  इनकी सैलरी 4 से 6 लाख तक की हो जाती है।

ये हैं भारत के टॉप 5 हैकर्स , जानिये इनसे जुड़े कुछ रोचक तथ्य ये हैं भारत के टॉप 5 हैकर्स , जानिये इनसे जुड़े कुछ रोचक तथ्य Reviewed by Sunny Thakur on शनिवार, जनवरी 07, 2017 Rating: 5
Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...