[entertainment]


शतरंज से क्रिकेट तक - कहानी यजुवेंद्र चहल की

शतरंज से क्रिकेट तक - कहानी यजुवेंद्र चहल की 



इन दिनों एक युवा क्रिकेटर हर किसी की जुबान पर छाया हुआ है और उसका नाम है युजवेंद्र चहल। आईपीएल 9 और इंग्लैंड के खिलाफ अंतिम टी 20 मैच में चहल ने जिस तरह गेंदबाज़ी की उन्होंने  उससे सबको अपना मुरीद बना लिया है। आरसीबी की टीम से खेलने वाले मिस्टर युजवेंद्र चहल दिल से बेहद सॉफ्ट और मस्त-मौला इंसान हैं। विराट कोहली के फैन और क्रिस गेल को अंकल कहने वाले चहल को फिल्म अभिनेत्री कैटरीना कैफ काफी पसंद हैं। चहल ने अपने स्पोर्टस करियर की शुरुआत क्रिकेट नहीं बल्कि चेस से की थी और मात्र 7 साल की उम्र से उन्होंने चेस खेलना शुरू किया।


चहल नें अंडर-12 की नेशनल किड्स चेस चैंपियनशीप भी जीती थी इसके अलावा ने अंडर 16 भी नेशनल चेस चैंपियनशीप का हिस्सा रह चुके हैं।चहल भारत के इकलौते ऐसे खिलाड़ी हैं जो शतरंज और क्रिकेट दोनों में भारत के लिए खेल चुके हैं।लेकिन चहल को जब चेस के लिए बढ़िया स्पान्सर नहीं मिला तो उनका पूरा फोकस क्रिकेट पर आ गया और नतीजा आज आपके सामने है।








शतरंज से क्रिकेट तक - कहानी यजुवेंद्र चहल की शतरंज से क्रिकेट तक - कहानी यजुवेंद्र चहल की Reviewed by Ankita Deshmukh on गुरुवार, फ़रवरी 02, 2017 Rating: 5
Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...